Connect with us

ताजा

पीएम केयर फंड से ख़रीदे गए वेंटिलेटर निकले ख़राब, घोटाले का अंदेशा

लोगों की जान के साथ खिलवाड़ हो रहा है शमशान तक में 2 गज की जगह नहीं बची है वही पंजाब से पीएम केयर फंड से ख़रीदे गए ख़राब वेंटिलेटर की शिकायत आई है

Published

on

पीएम केयर फंड से ख़रीदे गए वेंटिलेटर निकले ख़राब, घोटाले का अंदेशा

देश में एक जगह कोरोना का क़हर आतंक मचा रहा है वही कई जगहों से ऑक्सिजन, दवाइयाँ और प्लाज़्मा में मुनाफ़ाख़ोरी की खबरें भी आ रही है। लोगों की जान के साथ खिलवाड़ हो रहा है शमशान तक में 2 गज की जगह नहीं बची है वही पंजाब से पीएम केयर फंड से ख़रीदे गए ख़राब वेंटिलेटर की शिकायत आई है ।पंजाब अगेन्स्ट करप्शन के अध्यक्ष सतनाम सिंह दाऊ ने इस मामले में सुप्रीम कोर्ट, राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, हाईकोर्ट, सीबीआई, मानवाधिकार आयोग व पंजाब पुलिस को लिखित शिकायत दी है। उन्होंने बताया कोरोना काल में पंजाब को पीएम केयर फंड से मिले वेंटिलेटर उच्च क्वालिटी के नहीं हैं। अधिकतर वेंटिलेटर पहले से ही खराब हैं। 

उन्होंने राष्ट्रपति को लिखे पत्र में लिखा है कि इन वेंटिलेटर को खरीदने में करोड़ों रुपये का घोटाला होने की आशंका है। इस घोटाले में अधिकारी, राजनेता व कंपनियां शामिल है। सतनाम सिंह दाऊं ने कहा कि इस सारे मामले के लिए एक स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) गठित की जाए और मामले की गंभीरता से जांच करवाई जाए। इस तरह का घटिया सामान खरीदने वालों पर कार्रवाई की जाए। उनके ओर से लिखे पत्र में कहा गया है कि पंजाब में रोजाना सैकड़ों लोग कोरोना संक्रमण से मर रहे हैं। इसमें अधिकतर रोगियों को वेंटिलेटर की सख्त जरूरत होती है, लेकिन वेंटिलेटर की कमी के कारण मरीज दम तोड़ रहे हैं। पीएम केयर फंड से वेंटिलेटर पंजाब के विभिन्न जिलों में पहुंचे हैं वह प्रयोग नहीं हो रहे हैं। कई जिलों में तो वेंटिलेटर पर जंग तक लग गया था।

सतनाम सिंह दाऊ ने राष्ट्रपति को लिखे पत्र में गुरु गोबिंद सिंह मेडिकल कॉलेज, फरीदकोट, गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, अमृतसर, सरकारी मेडिकल कॉलेज, पटियाला का जिक्र किया हैं । इसके अलावा लिखा गया है कि पंजाब को भेजे गए मास्क और दस्ताने, पीपीई किट भी उच्च क्वालिटी के नहीं थे। ऐसे में इनकी खरीद में घोटाला हुआ है। ज़ाहिर बात है जब जब देश में कुछ बड़ा होता है तब उसके पीछे स्कैम या घोटाला हो ही जाता है लेकिन ऐसे महामारी के दौर में जब लोग अपनी जान गवां रहे है अपनों को खो रहे है ऐसे में घोटाला होना चिंताजनक है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © 2021 DigitalGaliyara (OPC) Private Limited